mom

internet ka kaisa pyar – ऑनलाइन प्यार (3)

शरवरी अंजलीके कॅबिनमें कॉम्प्यूटरपर बैठी हूई थी. अंजली उसकी सुबहकी मिटींग निपटाकर उसके कॅबिनमें वापस आ गई. उसने घडी की तरफ देखा. लगभग दोपहरके बारा बज गए थे. कुर्सी पिछे […]

It's only fair to share...
Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn
internet par pyar - ऑनलाइन प्यार (2)

इंटरनेट कॅफेमें विवेक एक कॉम्प्यूटरके सामने बैठकर कुछ कर रहा था. एक उसकेही उम्रके लडकेने, शायद उसका दोस्तही हो, जॉनीने पिछेसे आकर उसके दोनो कंधोपर अपने हाथ रख दिए और […]

It's only fair to share...
Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn
internet ka pyar - ऑनलाइन प्यार

सुबहका वक्त. कांचके ग्लासेस लगाई इमारतोंके जंगलमें एक इमारत और उस इमारतके चौथे मालेपर एक एक करके एक आयटी कंपनीके कर्मचारी आने लगे थे. दस बजनेको आए थे और कर्मचारीयोंकी […]

It's only fair to share...
Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn