group main chudai – जंगल में मंगल

group main chudai – जंगल में मंगल

प्यारे दोस्तो, मेरा नाम रश्मी प्रजापति है, मैं पूना में रहती हूँ।।

आज मैं आपको अपने हनीमून की कहानी सुनाने जा रही हूँ।

यह बात पिछले साल की है।group main chudai

मेरी शादी इसी साल 11 नवम्बर को हुई थी और 20 नवम्बर को मैं और मेरे पति हनीमून मनाने के लिए मनाली चले गए।

उस वक़्त मनाली में बहुत भीड़ थी तो हमने मनाली से भी काफी आगे जाकर होटल लिया।

होटल आबादी से करीब डेढ़ दो किलोमीटर दूर था और होटल से इतनी दूर पर ही जंगल शुरू हो जाता था।

खैर हम तो गए ही मौज मस्ती करने थे तो रूम में जाने पर सबसे पहला काम जो हमने किया वो था एक फटाफट सेक्स।

रात का इंतज़ार कौन करे।group main chudai

सेक्स करके हम थोड़ी देर लेटे रहे और उसके बाद नहा धोकर तैयार हो कर मनाली चले गए।

पहले एक बार में गए, हम दोनों ने थोड़ी थोड़ी ब्रांडी पी, उसके बाद घूम फिर के खाना खाकर पैदल ही टहलते हुये वापिस होटल में आ गए।

रास्ता खाली सुनसान था तो रास्ते में भी हमारी चुहलबाजी चलती रही।

यह पहली बार था कि जब मैंने एक हाइवे पर बीच सड़क बैठ कर पेशाब किया हो।

कुछ नशा था कुछ जवानी।

हेमंत तो अपना लौड़ा निकाल कर हिलाते हुए आए।

जब होटल पास आ गया तो हम ठीकठाक से होकर अपने कमरे में चले गए।

अंदर जाते ही एकदम से कपड़े उतार उतार कर इधर उधर फेंके और बस फिर ‘ऊह आःह’ शुरू।
मै आज फिर से जवान हो गईgroup main chudai

एक तो मेरे पति का कसरती बदन और ऊपर यह बड़ा सारा लौड़ा…
बाई गॉड, सच कहती हूँ, ताकत और जवानी का भरपूर संगम हैं वो…
जिस कारण मेरी तो हाय तौबा ही नहीं खत्म होती थी।
एक बार में ही मेरे बदन को तोड़ कर रख देते हैं…
ऊपर से उन्हें वाइल्ड सेक्स पसंद है, सेक्स के दौरान मारना पीटना, काटना खरोचना उन्हे बहुत पसंद है।

पहले पहल तो मुझे कुछ अजीब लगा, पर बाद में मुझे भी इसी में आनन्द आने लगा।

It's only fair to share...
Share on Facebook0Share on Google+0Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn1

Leave a Reply